Tech

हो जाओ सावधान!! आ रहे हैं आपका रोजगार छीनने नए-नए रोबोट सुल्तान

देश बेरोजगारी की समस्या से जूझ रहा है| बदलते हुए राष्ट्रीय एवं अन्तरराष्ट्रीय आर्थिक व्यवस्थाओं में हो रहे भारी भरकम परिवर्तनों के चलते बेरोजगारी और भी ज्यादा दिख रही है| देश की जरूरतों के हिसाब से देखा जाए तो हर वर्ष 1.8 करोड़ नौकरियां होनी चाहिए जबकि साल में 56 लाख के आसपास नौकरियां पैदा हो पा रही हैं| हर साल 1 करोड़ के लगभग लोग बेरोजगार हो रहे हैं| कहा जा रहा है कि इस हिसाब से क्रम चलता रहा तो ये आंकड़ा आने वाले 10 सालों में 20 करोड़ से भी ज्यादा होने की संभावना है| यानी 2030 तक बेरोजगारी अपने बेकाबूपने की चरम सीमाओं पर पहुँच जाएगी| इसका सबसे बड़ा कारण है| बढ़ता हुआ ऑटोमेशन, जिस तेजी से मशीनी रोबोट हर काम करने के लायक बना दिए गए हैं|

उससे दुनिया भर की करोड़ों नौकरियां खतरे में आ गयी हैं| 2017 में बड़े-बड़े सेक्टरों में काम कर रहे हाईक्वालीफाईड लोगों की नौकरी जाने का भय लग रहा है| अमेरिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, चीन, भारत के लोगों की नौकरियों में जिस तेजी से छंटाई चल रही है| उससे भविष्य का वीजन नजर आने लगा है| अन्य देशों के मुकाबले बेरोजगारी भारत के लिए गंभीर खतरा बन चुकी है| जो आतंकवाद, कानून व्यवस्था, के लिए गंभीर खतरा साबित हो सकती है| दुनिया भर के लोग रोबोट से भयभीत हैं| जिन कामों को अब तक केवल इंसान ही कर पाता था|

उसे अब मशीन की सहायता से किया जायेगा| मशीन का भी कोई भी रूप उस काम को कर सकेगा जिससे इंसान करने में आलस दिखाता है या बोर होता है| भले ही वो काम रोबोट करे, सॉफ्टवेयर द्वारा हो या इन्टरनेट के माध्यम से कर लिया जाए| हालाँकि जब कंप्यूटर आया था तब भी ऐसी ही आशंकाएं जाहिर की गयी थी| लेकिन कंप्यूटर की वजह से ही लाखों लोगों को नौकरी भी मिली थी| लेकिन असर तो पड़ेगा ही क्योंकि नए-नए शोधों के द्वारा मशीनों, सॉफ्टवेयरों, रोबोटों को इस कदर उन्नत बना दिया है| कि वे असम्भव लगने वाले कामों को सहजता से कर सकेंगे|

1.अब ऐसे रोबोट तैयार हो गए हैं| जो मॉल में सफाई कर सकते हैं| नजर रख सकते हैं और लोगों से काउन्टरों पर नगद लेन-देन करने में सक्षम हैं| इस सेक्टर के लोगों कि नौकरी खतरे में है|

2.महाराष्ट्र, गुजरात में कई ऐसे प्लांट हैं जिसमें पुर्जे बनाने और उन्हें एक साथ जोड़ देने का काम लोगों द्वारा होता था वो अब रोबोट के माध्यम से होने लगा है|

3.सामान पैक करने का डिलीवरी करने का काम भी भारत में कई जगह शुरू हो चुका है| जिसमें रोबोट्स और ड्रोन की मदद ली जा रही है|

4.I.T कम्पनियों में डेटा एंट्री और सही रख रखाव के काम के लिए कर्मचारी रखे जाते थे| लेकिन अब इसके लिए भी ऐसे सॉफ्टवेयर बना लिए हैं जो तमाम लोगों का काम उस सॉफ्टवेयर के द्वारा आसानी से पूरी शुध्द्ता से होने लगा है| तमाम इंसानों की नौकरियां इस फ़ील्ड से जा रही हैं| जिनमें पार्ट टाइम डाटा एंट्री की नौकरियां भी शामिल हैं|

5.भारत में भी ड्रोन का इस्तेमाल शुरू होने वाला है| आज ड्रोन को खेती में व्यापक रूप से काम में लाया जा रहा है| ड्रोन के द्वारा ख़राब पौधे की पहचान की जाती है| व खेतों में खाद डाली जा रही है|

Pages: 1 2

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top